भारत मां का सोना बेटा ‘नीरज’ :: उत्प्रभ उपमान

Read Time:1 Minute, 22 Second

भारत मां का सोना बेटा ‘नीरज’
                          -उत्प्रभ उपमान

आपने भाला फेंक कर रचा इतिहास ।
7 अगस्त का दिन रहेगा हमेशा ख़ास ॥

टोक्यो 2020 का पहला स्वर्ण आपने दिलाया ,
भारत को आपने जेवलिन थ्रो में जिताया ।
आपने भारत को जिताकर किया हमें हर्षित ।
आपके गले में स्वर्ण देखकर हम हुए गर्वित ॥

कांस्य था , रजत था लेकिन सोना नहीं था ।
भारत को यह सुंदर मौका खोना नहीं था ।
पहले ही प्रयास में खेल को वश में किया ।
उससे दूर तो किसी का भाला ही नहीं गया ।
भाला फेंका आपने जाकर सोने से टकराया ।
भारतवर्ष का तिरंगा सबसे ऊपर लहराया ।

आपने ट्रैक एंड फील्ड का पहला स्वर्ण है पाया ।
टोक्यों २०२० में पहली बार राष्ट्रगान अपना छाया ।
पानीपत के पुत्र भारत माता के सच्चे लाल हैं ।
नीरज बाबू आप अप्रतिम और कमाल हैं ।

उत्प्रभ संग पूरा देश आपको देता है बधाई ।
आपके स्वर्ण में सबकी खुशियां है समाई ।
……………………………….
उत्प्रभ उपमान, वर्ग-नवम
डी़.ए. वी. पब्लिक स्कूल, छपरा

,छपरा ,बिहार

 

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Previous post आजादी का गुमनाम मसीहा गया प्रसाद सिंह :: अविनाश भारती
Next post विशिष्ट ग़ज़लकार :: डॉ. पंकज कर्ण